May 24, 2024
Part 2 How English evolve from Hindi ? why no correct translation of Gita in market - Pt Ashok Sharma

जब बात भगवद्गीता की होती है, तो लोगों को लगता है कि हमने पढ़कर समझ लिया है लेकिन ये इतना आसान नहीं है क्योंकि जो शब्दों के अर्थ किसी अनुवाद या पुस्तक में दिए हैं, उस एक शब्द के कितने अर्थ हो सकते हैं ? वो एक शब्द का कौन सा अर्थ उस अनुवाद में आएगा, ये जानकारी अनुवादकों को नहीं होती है | जो संस्कृत का ज्ञाता है, वो फिलॉसफी नहीं जानता, जो फिलॉसफी जानता है, उसे संस्कृत नहीं आती और जो ये दोनों जानता है, वो व्याकरण नहीं जानता है | व्याकरण, का अर्थ लोग ग्रामर कर देते हैं, पर व्याकरण का अर्थ ग्रामर नहीं होता है ! व्याकरण पढ़ेंगे तो जानेंगे, कैसे शब्द यात्रा करते हैं | कैसे लोकजीवन में, शब्दों के अर्थ बदल जाते हैं | कैसे अंग्रजी, संस्कृत में से निकल कर आती है | ध्वनि कितने प्रकार की होती है और यही वजह है कि गीता के एक नहीं, अनेकों अनुवाद प्राप्त हैं और सभी में शब्दों का हेर फेर है, अर्थ का हेर फेर है |

इस वीडियो में उपरोक्त सभी प्रश्नो के उत्तर उदारहण के साथ दिए जाएंगे और ये भी बताया जाएगा, कि पंचभूत से एटम कैसे बना और जब हम कहते हैं कि पंचभूत से सृष्टि बनी और वैज्ञानिक कहते हैं कि एटम से सारी दुनिया बनी तो कौन ज्यादा सही है ?

यदि आपको ये वीडियो अच्छा लगे, तो अपने मित्रों, परिवार और सोसाइटी में इसे अवश्य शेयर करें, ताकि ये महत्वपूर्ण जानकारी, अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच सके |

When it comes to Bhagavad Gita, people think that we have understood by reading but it is not so easy because the meanings of the words which are given in a translation or book, how many meanings can that one word have? What meaning of that one word will come in that translation, this information is not available to the translators. One who knows Sanskrit does not know Philosophy, one who knows Philosophy does not know Sanskrit and one who knows both of these does not know grammar. Grammar means people make grammar, but grammar does not mean grammar. If you read grammar, you will know how words travel. How in folk life, meanings of words change. How does English come out of Sanskrit? How many types of sound are there and this is the reason that not one but many translations of Gita are available and there is manipulation of words in all, manipulation of meaning.

In this video the answers to all the above questions will be given with examples and it will also be told that how the atom was made from the Panchabhut and when we say that the universe was created from the Panchabhut and the scientists say that the whole world was created from the atom then who is more correct. ?

If you like this video, then definitely share it with your friends, family and society, so that this important information can reach more and more people.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page